चंडीगढ़ ( पंजाब दैनिक न्यूज़ ) पंजाब सरकार ने रिव्यू मीटिंग के पश्चात राज्य में पाबंदियां  को 10 जून तक बढ़ा दी हैं, अब प्राइवेट व्हीकल में सवारियों की संख्या पर पाबंदियां हटाई गई है परंतु कमर्शियल व्हीकल पर पाबंदियां कायम रहेंगी

सरकार ने 10 जून तक मिनी लॉकडाउन जारी रखने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही कोरोना मामलों में गिरावट को देखते हुए निजी वाहनों को राहत दी है। निजी वाहनों में यात्रियों की संख्या सीमा को हटाने के निर्देश दिए हैं।टैक्सियों में यात्रियों की संख्या सीमा पर प्रतिबंध बरकरार है।

मुख्यमंत्री ने सरकारी और प्राईवेट अस्पतालों में चुनिन्दा सर्जरियों को बहाल करने के साथ-साथ राज्य के सभी सरकारी मैडीकल कॉलेज और अस्पतालों में ओ.पी.डी. सेवाएं फिर शुरू करने के भी आदेश दिए हैं। यह जि़क्रयोग्य है कि गंभीर कोविड मामलों के लिए ऑक्सीजन और बेड की उचित उपलब्धता को यकीनी बनाने के लिए 12 अप्रैल को चुनिन्दा सर्जरियों को बंद कर दिया गया था, परन्तु मुख्यमंत्री ने अब इन ऑपरेशनों को अस्पताल में एल-3 मरीज़ों के लिए बेड की कमी न होने की शर्त पर बहाल करने की आज्ञा दी है।

निजी कारों और दो-पहिया वाहनों पर सवारियों की सीमा हटाई

चिकित्सा शिक्षा मंत्री ओ.पी. सोनी ने कहा कि सरकारी मैडीकल कॉलेजों ने 50 प्रतिशत ओ.पी.डी. सेवाएं पहले ही शुरू की हुई हैं, जो अब 100 प्रतिशत हो जाएंगी। कोविड पाबंदियों के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि माहिरों की सलाह के मुताबिक बन्दिशों को जारी रखने का फ़ैसला लिया गया है।

उन्होंने स्पष्ट किया कि निजी कारों और दो-पहिया वाहनों पर सवारियों की सीमा हटाई जा रही है, क्योंकि इन वाहनों में मुख्य तौर पर पारिवारिक सदस्य और नज़दीकी दोस्त-साथी ही सवार होते हैं, परन्तु सवारियों की ढोने वाले कमर्शियल वाहनों और टैक्सियों पर सीमा पहले की तरह जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि स्थानीय हालातों की प्राथमिकता के मुताबिक ग़ैर-ज़रूरी दुकानें खोलने में किसी भी तरह का बदलाव करने के लिए डिप्टी कमिश्नर ही अधिकृत रहेंगे।

 

LEAVE A REPLY