( पंजाब दैनिक न्यूज़ ) देश में पोटेटो किंग के नाम से मशहूर जालंधर के आलू उत्पादक संघा फार्म के 15 ट्रैक्टरों को किसी ने आग लगा दी। जिससे 12 ट्रैक्टर जलकर पूरी तरह नष्ट हो गए। यह वारदात रात 11.30 बजे की है। उस वक्त शहर में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए नाइट कर्फ्यू लगा रहता है। वारदात का पता चलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने अब आग लगाने वाले अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। वारदात को अंजाम देने वाले का पता करने के लिए इलाके में लगे CCTV फुटेज खंगाले जा रहे हैं।

संघा फार्म के मालिक जंग बहादर संघा ने बताया कि उन्होंने खेती कारोबार के लिए काफी ट्रैक्टर रखे हुए हैं। आलूओं की फसल का काम खत्म होने के बाद उन्होंने अपने ट्रैक्टर कादियावाली जगराल रोड पर स्थित अपने शैड के नीचे खड़े कर दिए। बीती रात करीब 11.30 बजे उन्हें शैड के चौकीदार का फोन आया कि वहां आग लग गई है और ट्रैक्टर भी जल रहे हैं। वह तुरंत भागकर शैड में पहुंचे और तुरंत फायर ब्रिगेड व पुलिस को सूचना दी। उन्होंने कहा कि यह 15 ट्रैक्टर उनके, उनके भाई हरविंदर सिंह व माता गुरदेव कौर संघा के लिए आए था

कोरोना संक्रमण रोकने के लिए पंजाब सरकार के लगाए नाइट कर्फ्यू की जिले में किस कदर बदतर हालत है, उसका यह एक और उदाहरण सामने आया है। इससे पहले शहरी इलाके में बर्थडे पार्टी, हवाई फायरिंग के साथ लूट व चोरी की वारदातें सामने आ चुकी हैं। इससे लग रहा है कि नाइट कर्फ्यू अपराधी व बदमाशों को खूब रास आ रहा है और पुलिस कर्फ्यू लगते ही अपने चौकी-थानों में सिमटकर रह जाती है।

.

LEAVE A REPLY