(पंजाब दैनिक न्यूज़)  पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के लिए सत्तारूढ़ आल इंडिया तृणमूल कांग्रेस (AITC) ने राज्य की 291 विधानसभा सीटों के लिए प्रत्याशियों की लिस्ट जारी कर दी है। राज्य में कुल 294 विधानसभा सीटे हैं। TMC ने दार्जलिंग की 3 सीटों पर अपने प्रत्याशी नहीं उतारने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खुद नंदीग्राम विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगी। पार्टी ने ज्यादा उम्र वाले विधायकों को इस बार टिकट नहीं दिया है और कहा है कि उन्हें विधान परिषद का सदस्य बनाया जाएगा। राज्य के वित्त मंत्री अमित मित्रा भी चुनाव नहीं लड़ रहे हैं।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पिछली बार भवानीपुर से भी चुनाव लड़ा था लेकिन इस बार वे भवानीपुर विधानसभा सीट से चुनाव नहीं लड़ रही हैं। भवानीपुर से शोभनदेव चटोपाध्याय को टिकट दिया गया है। इसके अलावा शिवपुर से क्रिकेटर मनोज तिवारी को पार्टी का टिकट दिया गया है। बांकुरा से एक्ट्रेस सांयतिका को टिकट दिया गया है, वे 3 दिन पहले ही पार्टी में शामिल हुईं थीं। लिस्ट में 42 मुस्लिम प्रत्याशियों और 50 महिलाओं के नाम शामिल हैं।

TMC ने किसे कहां से टिकट दिया

ममता बनर्जी – नंदीग्राम रत्ना चैटर्जी – बैरकपुर मनोज तिवारी – शिवपुर सांयतिका – भवानीपुर

कंचन मलिक – उत्तरपाड़ा राज चक्रवर्ती – बैरकपुर चंद्रिमा – दमदम नॉर्थ पार्था चटर्जी – पश्चिमी बेहाला

मदन मित्रा – कमरहट्टी बेचराम मन्ना – सिंगूर सोहम – चांदीपुर सुजित बोस – विधाननगर

देवाशीष कुमार – रसबिहारी विवेक गुप्ता – जोड़ाशाको इदरिस अली – मुर्शिदाबाद जून मालिया – मिदनापुर

अदिति मुंशी – राजरहाट सयोनी घोष – आसनसोल साउथ कौशनी मुखर्जी – कृष्णानगर उत्तर

राज्य में विधानसभा चुनाव 8 चरणों में होंगे। पहले चरण का मतदान 27 मार्च, दूसरा चरण 1 अपैल, तीसरा चरण 6 अप्रैल, चौथा चरण 10 अप्रैल, पांचवा चरण 17, छठा चरण 22 अप्रैल, सातवां चरण 26 अप्रैल और आठवा चरण 29 अप्रैल को होगा। वहीं चुनाव नतीजे 2 मई को घोषित किए जाएंगे।पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे 2 मई को आएंगे।डोर टू डोर कैंपेन में 5 से ज्यादा लोगों को मतदाता के घर पर जाने की अनुमति नहीं होगी।80 वर्ष से ज्यादा आयु के मतदाताओं को पोस्टल मतदान का विकल्प रहेगा।सभी चुनाव कर्मियों को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी। सभी चुनाव कर्मचारी फ्रंटलाइन वर्कर हैं। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि चुनाव का वक्त एक घंटा बढ़ाया गया।उम्मीदवार जमानत की रकम ऑनलाइन जमा करेंगे और चुनाव वाले सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में सीआरपीएफ की तैनाती होगी।पश्चिम बंगाल में 101916 पोलिंग स्टेशन होंगे जो पिछले चुनाव के मुकाबले 35 प्रतिशत ज्यादा हैं। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए 2 पुलिस ऑब्जर्वर होंगे। बंगाल चुनाव के ऑब्जर्वर अजय नायक होंगे।

सीबीएसई के अधिकारियों के साथ कई बार बैठक की गई ताकि चुनाव कार्यक्रम और छात्रों की परीक्षाओं में किसी तरह का टकराव न हो।सभी पोलिंग स्टेशनों पर पीने के पानी, बिजली, वेटिंग एरिया, सैनिटाइजर, मास्क, सोप वाटर, वील चेयर आदि की व्यवस्था की जाएगी।बंगाल में प्रति विधानसभा खर्च की लिमिट 30.8 लाख रुपए होगी जबकि पुडुचेरी के लिए प्रति विधानसभा खर्च की लिमिट 22 लाख रुपए रहेगी। बाकी राज्यों में भी 30.8 लाख रुपए होगी। राजनीतिक दल अपने अपराधिक रिकॉर्ड वाले उम्मीदवार के बारे में लोकल अखबार, चैनल और अपनी वेबसाइट पर जानकारी देंगे. ताकि जनता को पता रहे कि उम्मीदवार कैसा है?

.

 

LEAVE A REPLY