जालंधर ( पंजाब दैनिक न्यूज़) आज गुरु नानक पूरा ईस्ट में माहौल उस समय तनावपूर्ण बन गया जब गुरु नानक पूरा ईस्ट में पिछले 40 साल से स्तिथ श्री सनातन धर्म सभा हरि मंदिर में चुनाव को लेकर हंगामा हो गया।तनावपूर्ण माहौल में असामाजिक तत्वों द्वारा इलाका वासी अजय कुमार पर जानलेवा हमला किया गया। इस अवसर पर अजय कुमार ने बताया कि चुनाव को लेकर जब सभी इलाका वासी मंदिर में इकठे हुए तो सभी ने उनसे पिछले 13 सालो का हिसाब मागा गया। हिसाब मांगने पर मोहल्लों के बाहर के असामाजिक तत्वों द्वारा हमला किया गया।जानकारी के अनुसार सारा मामला पुलिस प्रभारी को बता दिया गया है।जानकारी के अनुसार आज से लगभग 13 साल पहले एच एल शर्मा की अध्य्क्षता में मंदिर का चुनाव करवाया गया था एवं स्वर्गीय प्रदीप कक्कड को 2 साल के लिए प्रधान नयुक्त किया गया था। ऑडिटर विजय कुमार शर्मा द्वारा पूर्व प्रधान प्रेम सागर से 10 दिन में हिसाब की मांग की गई।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पिछले 13 सालों में कमेटी द्वारा न तो कोई हिसाब दिया गया और न ही चुनाव करवाया गया।इस अवसर पर मोहल्ला वासियो से बातचीत करने पर पता चला कि आज से पहले 13 साल पहले भी हिसाब मांगने पर गुंडागर्दी देखने को मिली थी ।इलाका वासियों का कहना है कि पिछले चुनाव में भी इलाका वासी नरिंदर ग्रोवर पर भी जानलेवा हमला किया गया था।इस अवसर पर मोहल्ला वासियो ने बताया कि मंदिर पिछले 24 दिसंबर 2019 को प्रदीप काकड़ की मृत्यु हो गई और अब मोहल्ले के कुछ लोग मंदिर में राजनीति कर इस इलेक्शन की प्रक्रिया को सीधे तौर पर ना चला कर अपनी मनमर्जी से मंदिर का प्रधान बनाने की योजना बना रहे हैं या अशुद्ध आसान तरीके से मंदिर का प्रधान बना सकते हैं ताकि मंदिर उन लोगों के कब्जे में रहे और आम जनता को आय-व्यय की कोई जानकारी ना दी जाए इसी प्रकार पहले भी जो इस तथा कथित कमेटी द्वारा घटनाएं हुई चाहे वह हथियारबंद लोगों को साथ लेकर आम जनता को धमकाना या पिछले समय में मंदिर प्रबंधक कमेटी के ही 2 पदाधिकारियों जिसमे कमल किशोर शर्मा व सुरिंदर प्रभाकर द्वारा रामायण के साथ बेअदबी की गई व अन्य घटनाओं की जानकारी समय-समय पर प्रशासन को दी गई उनकी उनके दस्तावेज दस्तावेज साथ में संलग्न किए गए हैं रामायण के बेअदबी की घटना जो की रामा मंडी थाने में दिनाक 06/03/17 कंप्लेंट नंबर 454PTM,दिनाक 28/03/17 कंप्लेंट नंबर 663PTM, दिनाक 29/03/17 कंप्लेंट नंबर 664PTM को दर्ज है लेकिन पुलिस द्वारा राजनीति दवाब के कारण कोई कारवाही नही की गई।पुलिस को मूकदर्शक बनते देख मुहल्ले की महिला भी रोते हुए मंदिर से बाहर गई।एक महिला ने नाम न छापने कि शर्त पर कहा कि गुंडागर्दी को देखते हुए लगता है कि इलाका वासियों द्वारा अपने दिए गए दान का हिसाब लेने का भी कोई अधिकार नही है।उन्होंने बताया कि इलाके में पिछले समय मे हुई गुंडागर्दी में भी इन्हीं असामाजिक तत्वों का नाम सामने आया था।

LEAVE A REPLY