(पंजाब दैनिक न्यूज़) मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अगुवाई में वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से चंडीगढ़ के पंजाब भवन में बिल्डिंग एंड अदर कंस्ट्रक्श वेल्फेयर बोर्ड की 27वीं मीटिंग आयोजित हुई। जिसमें कैबिनेट मंत्री बलबीर सिद्धू, विभाग के सेक्रेटरी सहित जालंधर से बोर्ड के सदस्य जब्बार खान भी में शामिल हुए। इस दौरान मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बोर्ड के कई अहम मुद्दों को पास करते हुए कंस्ट्रक्शन वर्कर्स को बड़ी राहत और सुविधाय मुहैया करवाई है। जब्बार खान ने बताया कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से शगुन स्कीम में सबसे बड़ी घोषणा करते हुए इसे 31 हजार से बढ़ाकर 51 हजार किया है। 1 अप्रैल 2021 से अब कंस्ट्रक्शन बोर्ड से जुड़े लेबर की बेटी की शादी में मिलने वाला शगुन स्कीम को बढ़ाया गया है। इसकी 50 फीसदी अमाउंट किसी भी धर्म के अनुसार होने वाली शादी के सर्टिफिकेट पर ही दिया जाएगा। इसके अलावा लेबर कार्ड बनवाने के लिए पहले जन्म प्रमाण पत्र और 10वीं के सर्टीफिकेट का होना अनिवार्य था लेकिन इसे भी खत्म करते हुए अब आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड और राशन कार्ड के जरिए भी लेबर कार्ड बनाया जा सकता है। अगर सूबे में किसी भी कंस्ट्रक्शन वर्कर की मौत पर होती है तो सरकार की तरफ से उसे 2 लाख रुपए मुआवजा दिया जाएगा, भले ही वह डिपार्टमेंट से रजिस्टर्ड नहीं है लेकिन योग्य है तो भी उसे दिया जाएगा। जब्बार खान ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से अलग-अलग स्कीमों में लाभ लेने के लिए 6 महीने बढ़ा दिया गया है क्योंकि कोविड के चलते समय निकल चुका है और हजारों लोग अप्लाई नहीं कर पाए है अब उन्हें और समय मिलेगा। इसके अलावा कंस्ट्रक्शन वर्कर्स के बच्चों को एजुकेशन के समय मिलने वाली आर्थिक सहायता में भी 10 हजार की बढ़ौतर की गई है। जब्बार खान ने कहा कि सरकार की तरफ से लेबर को बहुत बड़ी सुविधा दी गई है अब ज्यादा से ज्यादा लोग इस स्कीम से जुड़ेगे। इस मौके पर विभाग के सब अधिकारी व सदस्य मौजूद थे।

LEAVE A REPLY