(पंजाब दैनिक न्यूज़) कपड़ों से भरे बैग में वह कोई मामूली घरेलू सामान लग रहा था, मगर बगोटा के एल डोराडो अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पुलिस इंस्पेक्टरों को बैग के निचले हिस्से में कुछ अजीब लगाI एक्स-रे में दिख रहा था कि कपड़ों के बीच गहरे रंग की कोई चीज़ रखी हैI बैग खोलने पर वहां से फोटोग्राफिक फ़िल्म के सैकड़ों काले डिब्बे मिलेI अधिकारियों ने जब उनको खोला तो अंदर कोई फ़िल्म नहीं मिलीI उन डिब्बों में 424 छोटे लुप्तप्राय मेंढक थेI काला बाज़ार में उनमें से हरेक की कीमत 2,000 डॉलर (1,479 पाउंड) तक थीI कुछ मेंढकों पर पीले और काले रंग की धारियां थींI कुछ मेंढक हरे रंग के थे जिन पर चमकदार नारंगी धब्बे थे. कुछ मेंढक बेजान थे, मगर सभी बेहद ज़हरीले थेI पुलिस के मुताबिक मेंढक की उन प्रजातियों को कोलंबियाई प्रशांत क्षेत्र के कोको और वैले डेल कोका क्षेत्रों से पकड़ा गया था और जर्मनी ले जाया जा रहा थाI 13 अप्रैल 2019 को हुआ यह वाकया कोलंबिया में वन्यजीव तस्करी का नमूना भर हैI कोलंबिया में 850 प्रजातियों के उभयचर जीव रहते हैंI मेंढकों की विविधता के मामले में यह दुनिया में दूसरे स्थान पर हैI पॉइजन डार्ट मेंढक धरती के सबसे ज़हरीले जीवों में से एक हैंI

.

यूरोप और अमरीका के संग्राहक उनको शौक से रखते हैंI हर मेंढक में इतना ज़हर होता है कि वह 10 लोगों की जान ले सकेI उनकी त्वचा का चटख रंग शिकारियों को आगाह करता हैI वही रंग उनको बेशकीमती बनाता हैI जर्मनी के हम्बोल्ट इंस्टीट्यूट के शोधकर्ताओं के मुताबिक कोलंबिया में करीब 200 उभयचर प्रजातियों को लुप्तप्राय या गंभीर रूप से संकटग्रस्त प्रजातियों के रूप में वर्गीकृत किया गया हैI इनमें ज़्यादातर मेंढक हैंI

LEAVE A REPLY