(पंजाब दैनिक न्यूज़)  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के स्कूलों में इस बार दो बार प्री बोर्ड परीक्षा होगी। जनवरी के अलावा मार्च में फिर प्री बोर्ड टेस्ट होगा। जो छात्र अभी प्री बोर्ड नहीं दे पाए हैं, वे मार्च में होने वाले प्री बोर्ड टेस्ट में शामिल होंगे। बोर्ड की मानें तो प्री बोर्ड में पास होना जरूरी है। पास नहीं होने पर छात्रों को बोर्ड परीक्षा का प्रवेश पत्र मिलेगा। सारे छात्र प्री बोर्ड परीक्षा में शामिल हों और परीक्षा पास करें, इस कारण स्कूल में दो बार प्री बोर्ड लेने की तैयारी की जा रही है।ज्ञात हो कि कोरोना के बाद चार जनवरी से स्कूल खुल गए हैं। कई स्कूलों में चार जनवरी से ही प्री बोर्ड शुरू हो गए हैं। कई स्कूल जनवरी के दूसरे और तीसरे सप्ताह में प्री बोर्ड लेने की तैयारी में हैं। इन स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति कम है। नॉट्रेडम एकेडमी की बात करें तो चार जनवरी को 12वीं के प्री बोर्ड में काफी कम छात्राएं शामिल हुईं। यही हाल लोयेला हाई स्कूल की 12वीं प्री बोर्ड में हुआ। विज्ञान संकाय के छात्र तो शामिल हुए, लेकिन कला और वाणिज्य संकाय के छात्र प्री बोर्ड में शामिल नहीं हुए। प्री बोर्ड के माध्यम से अभी छात्रों की तैयारी का आकलन किया जाएगा I इसके बाद ही फिर से एक बार प्री बोर्ड लिया जायेगा। प्री बोर्ड परीक्षा में अभी 10 से 20 फीसदी छात्र अनुपस्थिति हो रहे हैं। यह स्थिति कोई एक स्कूल की नहीं है बल्कि ज्यादातर स्कूलों की है। अभिभावकों द्वारा अनुमति नहीं दिये जाने के कारण दस से 20 फीसदी छात्र अब भी प्री बोर्ड देने स्कूल नहीं आ रहे हैं। सीबीएसई पटना के कोऑर्डिनेटर राजीव रंजन ने बताया कि हर साल जनवरी में प्री बोर्ड लिया जाता है। अभी जनवरी में हो रहे प्री बोर्ड में बहुत से छात्र शामिल नहीं हो रहे हैं। इस कारण मार्च में भी प्री बोर्ड लिया जाएगा। ऑनलाइन क्लास में बहुत से छात्र शामिल नहीं हो पाए हैं, इसलिए स्कूल में सिलेबस पूरा करना है।

LEAVE A REPLY