(पंजाब दैनिक न्यूज़) कोरोना महामारी के कारण पूरे संसार भर में यहां जनजीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है, लॉकडाउन और कर्फ्यू के कारण आम लोगों के पास परिवार को दो वक्त का खाना खिलाने के पैसे भी नहीं है परंतु कुछ प्राइवेट स्कूलों द्वारा जानबूझकर बच्चों के अभिभावकों को तंग परेशान किया जा रहा है I ऑनलाइन पढ़ाई का बहाना बनाकर मोटी रकम वसूली जा रही है परंतु अब स्कूलों की तरफ से बच्चों को शिक्षा से वंचित करना इतना भी आसान नहीं है, इसका ताजा उदाहरण पंजाब के मंडी गोबिदगढ़ के एक निजी स्कूल से मिलता है जिस की मान्यता सीबीएसई ने रद्द करने का ऐलान किया है। मंडी गोविंदगढ़ के ओम प्रकाश बंसल मॉडर्न स्कूल की सीबीएसई ने मान्यता रद्द कर दी है। यह स्कूल करीब एक महीना पहले भी चर्चा में आया था जब राज्य सरकार की तरफ से स्कूल की एनओसी रद्द की गई थी। गौरतलब है कि कुछ प्राइवेट स्कूल चलाने वाली संस्थाओं द्वारा ऑनलाइन के नाम पर फीस वसूली के नाम पर स्कूल से बच्चों का नाम काटने की धमकी दी जा रही है, स्कूल द्वारा बनाए गए ग्रुप में मोटी फीस देने के लिए कहा जाता है तथा कुछ स्कूलों द्वारा फीस ना देने पर बच्चों को स्कूल द्वारा बनाए गए ग्रुप से रिमूव किया जा रहा है I बच्चों के अभिभावकों ने सरकार से अपील की है कि बच्चों के भविष्य को देखते हुए ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए I जिससे कि बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ ना हो सके I

LEAVE A REPLY