(पंजाब दैनिक न्यूज़ ) सूर्य ग्रहण आज यानी 21 जून को 10:20 से शुरू होकर 1:49 बजे समाप्त होगा और इसका मध्य ग्रास समय 12:02 बजे होगा I सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए तथा उन्हें सब्जी काटना, कपडे की सिलाई करना, भोजन करना, भोजन पकाना जैसे कार्यों को नहीं करना चाहिए. इन कार्यों को करने से बच्चे में दोष पैदा हो सकता है.
ग्रहण काल के दौरान या मध्य में महिलाओं को सजना सवंरना नहीं चाहिए.
सूर्य ग्रहण के दौरान लोगों को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए तथा सूर्यग्रहण को नंगी आँखों से नहीं देखना चाहिए.
सूर्य ग्रहण के दौरान कोई शुभ या नया कार्य नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से कार्यों में सफलता नहीं मिलती और नुकसान उठाना पड़ सकता है.
सूर्य ग्रहण के दौरान उधार का लेन-देन नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से दरिद्रता आती है लक्ष्मी नाराज होती हैं.
सूर्य ग्रहण के दौरान नुकीली चीजों का उपयोग वर्जित है.
सूर्यग्रहण ख़त्म होने के बाद ये काम अवश्य करें
ग्रहण के बाद स्नान अवश्य करें तथा अपने आराध्य देव का पूजाकर उनका ध्यान करें.
ऐसी मान्यता है कि गर्भवती महिलाओं को ग्रहण खत्म होने के बाद उन्हें जरूर स्नान ध्यान करना चहिये नहीं तो उनके बच्चे को त्वचा संबंधी रोग हो सकता है.
गर्भवती महिलाओं को जीभ पर तुलसी पत्र रखकर हनुमान चालीसा और दुर्गा स्तुति का पाठ करना चाहिए. माना जाता है कि ऐसा करने पर बुद्धिमान और ज्ञानवान बच्चे पैदा होते हैं.
सूर्य ग्रहण के दौरान गायत्री मंत्र, गुरु मंत्र, सूर्य मंत्र, नारायण मंत्र का जप और ध्यान करने से बहुत लाभ मिलता है. इससे आपकी कुंडली में मौजूद ग्रहों का कुप्रभाव समाप्त हो जायेगा तथा आय में वृद्धि होगी I

LEAVE A REPLY