जालंधर (मुनीश तोखी ) पंजाब में लोक डाउन का पूरी तरह से पालन कर रहे मुस्लिम समाज ने पंजाब के मुख्यमंत्री  कैप्टन अमरिंदर सिंह से मांग की 24 / 25 तारीख को मुस्लिम समाज का सबसे बड़ा त्यौहार ईद उल फितर है जो कि आपसी एकता व भाईचारे का प्रतीक है I इस दिन मुस्लिम समाज मस्जिद ईदगाह में जाकर ईद की नमाज अदा करता है I अपने मुल्क ,पूरी इंसानियत के लिए खुदा से दुआएं करता है I इसलिए माननीय मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से मुस्लिम समाज ईद की नमाज मस्जिदों में अदा करने की मांग करता है I रमजान का मुबारक महीना चल रहा है 4 दिन बाकी है आने वाला जुम्मा , रमजान शरीफ का आखिरी जुम्मा है I जिसकी मुस्लिम समाज में बड़ी अहमियत है और लोग आखरी जुम्मे की नमाज भी मस्जिद में अदा कर खुदा की इबादत करते है I ऑल इंडिया जमात ए सलमानी बिरादरी के पंजाब चेयरमैन व पंजाब कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के जनरल सेक्रेटरी पंजाब अख्तर सलमानी ने उम्मीद जताई  मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह उनकी मांगों को ध्यान में रखते हुए उचित कदम उठाएंगे मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह का हर फैसला हमें मंजूर होगा I इस अवसर पर जिला जालंधर चेयरमैन लियाकत अली,  सीनियर गुर्जर नेता ख्वाजा गरीब नवाज फाउंडेशन के चेयरमैन माइनोटी विभाग के पंजाब सचिव अकबर अली, कांग्रेसी नेता तस्लीम अहमद , भी साथ मौजूद रहे I अल्पसंख्यक विभाग के जनरल सेक्रेटरी अख्तर सलमानी ने कहां की मुस्लिम समाज पूरे तरीके से कांग्रेस पार्टी के साथ जुड़ा हुआ है और मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा है और खड़ा रहेगा, सलमानी ने उम्मीद जताई, सभी, धर्मों को उचित मान-सम्मान देकर एक साथ जोड़ कर चलने वाले पंजाब के मुख्यमंत्री हमारी मांग वह आस्था को ध्यान में रखते हुए उचित कदम उठाएंगे I

LEAVE A REPLY