जालंधर  (मुनीश तोखी ) कोरोना वायरस जैसी गंभीर महामारी को तकरीबन 46 दिनों के करीब हो चुके हैं और अगर देखा जाए तो लोगों से वोटें लेने के नाम पर गरीब व भोलीभाली और आम जनता को बेवकूफ बनाने वाले पार्षद से लेकर विधायक मंत्रियों तक कोई भी अपनी जनता का पहले ही जनता कर्फ्यू के दिन से इस गंभीर महामारी से डरते हुए सेवा करने के लिए हाथ बढ़ाने के लिए बाहर नहीं निकले हैं और अगर दूसरी और देखा जाए तो इस महामारी में भी अगर बिना किसी भेदभाव और दिल से पहले दिनों से ही सेवा के लिए हाथ आगे बढ़ रहे हैं तो वह है डॉक्टर्स के, पुलिस वाले, नर्सेज व आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सफाई कर्मचारी और मीडियाकर्मी अपनी हर संभव सेवाएं दे रहे हैं और आपको बता दें यह तो गलत नहीं होगा की पुलिस कर्मचारी किसी न किसी वजह से सुर्ख़ियों में रहते आए हैं लेकिन आपको बता दें की एक सिक्के के दो पहलू होते हैं कुछ पुरुष कर्मचारी अगर बदनाम भी है तो कुछ पुलिस कर्मचारी पहले भी और आज भी ऐसे हैं जो इस कोरोना वायरस जैसी गंभीर महामारी में अपनी ड्यूटी के साथ-साथ आम लोगों की सेवा भी कर रहे हैं ! इसी का ही एक सबूत यह है की सुबह से महानगर की दिलकुशा मार्केट में सुबह से शाम तक अपनी ड्यूटी करने वाले ए.एस.आई. रवि कुमार व उनकी टीम ड्यूटी के साथ-साथ गरीब व आम लोगों की सेवा भी कर रहे हैं ! इस बारे में जब ए.एस.आई. रवि कुमार से बात की गई तो उन्होंने कहा की उन्हें यह प्रेरणा डेरा व्यास के मुख्य बाबा जी से मिली है रवि कुमार का कहना था कि वह बहुत सालों से डेरा ब्यास से जुड़े हुए हैं और अपने छुट्टी वाले दिनों में वहां सेवा करने जाते थे और उन्हें बाबा जी के प्रवचनो से ऐसे प्रेरणा मिली की वह दीन दुखियों की मदद करने से फिर वह किसी तरह की भी हो तो वह पीछे नहीं हटते हैं ! उनसे जब पूछा गया कि आप तो पुलिस की नौकरी करते हो तो तेरी यह कैसे संभव हो पाता है तो ए.एस.आई. रवि कुमार का कहना था की ड्यूटी में अगर गलत लोगों पर सखती करनी पड़े तो वो वह भी करते हैं लेकिन यह भी सत्य है कि वह बाबा जी के आज्ञा से और अपने परिवारिक सदस्यों के सहयोग से जब से यह कोरोना वायरस जैसी महामारी शुरू हुई है वह कई लोगों की अपनी व अपने टीम की सहायता से मदद कर चुके हैं जिनमें से दिलकुशा मार्केट काम करने वाले कुछ कर्मचारी भी हैं ! ए.एस.आई रवि कुमार ने कहा कि बाबा जी ने यह भी दुआ की है की जिन जिन की भी डेरे की ओर से और डेरे के सेवादारों की ओर से जिस प्रकार की भी सहायता की गई है वह इस राशन को प्रसाद समझकर ग्रहण करें और बाबा जी ने सब के लिए दुआ भी की है की यह कोरोना वायरस जैसी गंभीर महामारी जल्द ठीक हो और भविष्य में भी इस तरह से किसी को भी ऐसे किसी से भी मदद ना लेनी पड़े और सभी के व्यापार खुले और सभी काम पर लगे I

LEAVE A REPLY