जालंधर ( पंजाब दैनिक न्यूज़) जालंधर इलेक्ट्रिकल मर्चेंट्स वेल्फेयर एसोसिएशन फगवाड़ा गेट के प्रधान राकेश कपूर पूरे जालंधर प्रसाशन पंजाब सरकार एवं भारत सरकार की कॉविड 19 को लेकर जो जनता के हितों के लिए प्रयास किए हैं और जो दिन रात अपनी जान को जोखिम में डाल कर जो सेवा कर रहे हैं उनकी सराहना करने के लिए ऐसा कोई भी शब्द हमारे पास नहीं है,  जो इस मापदंड पर खरा उत्तर सके। बस हम सभी लोग पूरे डिपार्टमेंट को सिर्फ नमन ही कर सकते हैं, जो संकट की इस घड़ी में अपनी जान जोखिम में डाल कर समाज सेवा में निरंतर दिन रात खड़ा है। इसी केेेे साथ ही उन्होंने पुलिस कमिश्नर जलंधर गुरप्रीत सिंह भुल्लर सेे निवेदन किया कि जो घटना मिलकबार चौक पर हुई थी, जिसमें अनमोल मेहमी पुत्र परविंदर मेहमी वाले केस में हुई है I जिसमे एएसआई मुलख राज अनमोल द्वारा चलाई जा रही गाड़ी की चपेट मैं आ गए थे, हम सभी इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। शायद मानवता के आधार पर भी कोई भी शख्स ऐसा नहीं होगा जो इस घटना की निंदा ना करे, चाहे स्वयं अनमोल के परिवार वाले भी हों। राकेश कपूर नेे कहा राकेश कपूर ने कहा उनकी  खुद की इतनी औकात नहीं है कि मै आप जैसे ऑफिसर के साथ तो क्या एक हेड कांस्टेबल के साथ कानून की धाराओं या कानूनी प्रक्रिया के बारे में कोई भी बात कर सकूं। कानूनी प्रक्रिया को आप बेहतर समझते हैं। मेरा सिर्फ एएसआई मुल्ख राज नाके पर उपस्थित सभी मुलाजिमों से आप से और प्रदेश सरकार से अनुरोध है कि बच्चे को जो भी सजा देना चाहते हों दें लेकिन बच्चे की उम्र, बच्चे का भविष्य, बच्चे के परिवार की उम्मीदों, बच्चे का चरित्र और जो बच्चे से जूर्म हुआ है उसकी मानसिकता, उसका पुलिस से डर कर घबराना सभी कुछ देख और सोच कर ही कोई निर्णय लें। बच्चे का देश और समाज के भविष्य में क्या योगदान रहेगा ये सब आपके निर्णय के ऊपर निर्भर करता है। उन्होंने अपनी तरफ से और  एसोसिएशन की तरफ़ से और बच्चे के परिवार की तरफ से एएसआई मुल्ख़ राज से नाके पर उपस्थित सभी मुलाजिमों से आपसे और पूरे प्रसाशन से दोनों हाथ जोड़ कर माफी मांगता हूं और इस केस में बच्चे के लिए दया की भीख मांगता हूं। उम्मीद है कि आप बच्चे का भविष्य देख कर ही निर्णय लेंगे।

LEAVE A REPLY