जालन्धर (मुनीश तोखी ) जिले में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए एक विशेष पहल करते हुए जिला प्रशासन ने सरकार द्वारा निर्धारित कीमतों पर सब्जी विक्रेताओं के द्वारा घर-घर हैड सैनीटाईजर पहुँचाने की शुरुआत की गई है।इस संबंधी जानकारी देते हुए उप मंडल मैजिस्ट्रेट वर्जित वालिया जो इस स्कीम को लागू करवा रहे हैं ने बताया कि डिप्टी कमिश्नर जालंधर वरिन्दर कुमार शर्मा के दिशा निर्देशों के अनुसार जिले में हैंड सैनीटाईजर, साबुन, सर्फ, हाथ धोने वाले साबुन, मास्क, झाडु और वाईपर की कीमतों को पर रोक लगाने के लिए यह फैसला लिया गया है, उन्होने कहा कि जिले में हैंड सैनीटाईजर और अन्य सामानों की भारी माँग होने के कारण कुछ लोगों द्वारा इन सामानों की नकली कमी दिखाकर अधिक कीमत वसूलने की शिकायतें लगातार मिल रही है। उन्होने कहा कि इस रुझान को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने दो बड़े डिस्टिलरियों को अल्कोहल अधारित हैंड सैनीटाईजर लोगों को उपलब्ध करवाने के लिए कहा गया था। उप मंडल मैजिस्ट्रेट ने बताया कि यह हैंड सैनीटाईजर 50 एम.एल. से 500 एम.एल की बोतलों में वाजिब कीमत पर उपलब्ध होगा। उन्होने कहा कि जिस तरह जिला प्रशासन ने जरूरी सामानों जैसे दूध, सब्जियां, फल और किराना लोगों के घर-घर पहुँचाया जा रहा है उस तरह हैंड सैनीटाईजर भी जिला प्रशासन की तरफ से तय कीमत पर लोगों के घर -घर पहुँचाया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस लिए यह हैंड सैनीटाईजर सब्जी बेचने वालों के द्वारा लोगों तक पहुँचाने का फैसला लिया गया है,उन्होने कहा कि जैसे सब्जी बेचने वाले घर घर जाते हैं I इसलिए लोगों को इन से हैंड सैनीटाईजर प्राप्त करने में आसानी होगी। उन्होने कहा कि इस का मुख्य उदेश्य कोविड -19 महामारी से प्रभावशाली ढंग से लडना है। उन्होने कहा कि इन सामानों की बाजार में कोई कमी नहीं है और जिला प्रशासन जरूरी सामान लोगों को सुचारू ढंग से पहुँचाने के लिए वचनबद्ध है।

LEAVE A REPLY