जालंधर (मुनीश तोखी ) दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान अध्यात्म के साथ साथ दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान अध्यात्म के साथ साथ समाजिक कल्याण के लिए प्रत्येक प्रकल्पों में कार्यरत है। वर्तमान समय में बदलते परिवेश के कारण रोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। अनियमित व अनियन्त्रित खानपान, दूषित जल, प्रदूषण व तनाव के कारण रोगों में बढौतरी हो रही है। संस्थान के द्वारा लोगों की अस्वस्थ्यता को देखते हुए श्री गुरू रविदास महाराज जी के प्रकाश पर्व पर रविदास धाम बूटा मंडी के पास अरोग्य प्रकल्प के अंर्तगत 5 दिन के स्टाल एवं कैंप का अयोजन किया गया। इस मौके पर संस्थान की और से डॉ शशि ने बताया कि अरोग्य प्रकल्प के अन्तरगत पूरे भारत में अनेक निशुल्क चिकित्सा सेवा प्रदान की जाती है। इसके साथ विदेशी लोग भी इस सेवा का लाभ उठाने में पीछे नहीं है। इस कार्यक्रम का लक्ष्य रोगों के निदान व उस के प्रति जनमानस में जागरूकता पैदा करना। डा साहब ने कहा कि यदि आज के समय में हम योगा और प्राणायाम को महत्व दें, अपना खानपान सही रखे तो काफी हद तक हम बिमारियों से बचे रह सकते है। इस कैंप के दौरान 500 से ज्यादा मरीजों का निशुल्क चैकअप किया गया और इस कैंप में मरीजों को मुफ्त दवाइयां भी दी गई।प्रत्येक प्रकल्पों में कार्यरत है। वर्तमान समय में बदलते परिवेश के कारण रोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। अनियमित व अनियन्त्रित खानपान, दूषित जल, प्रदूषण व तनाव के कारण रोगों में बढौतरी हो रही है। संस्थान के द्वारा लोगों की अस्वस्थ्यता को देखते हुए श्री गुरू रविदास महाराज जी के प्रकाश पर्व पर रविदास धाम बूटा मंडी के पास अरोग्य प्रकल्प के अंर्तगत 5 दिन के स्टाल एवं कैंप का अयोजन किया गया। इस मौके पर संस्थान की और से डॉ शशि ने बताया कि अरोग्य प्रकल्प के अन्तरगत पूरे भारत में अनेक निशुल्क चिकित्सा सेवा प्रदान की जाती है। इसके साथ विदेशी लोग भी इस सेवा का लाभ उठाने में पीछे नहीं है। इस कार्यक्रम का लक्ष्य रोगों के निदान व उस के प्रति जनमानस में जागरूकता पैदा करना। डा साहब ने कहा कि यदि आज के समय में हम योगा और प्राणायाम को महत्व दें, अपना खानपान सही रखे तो काफी हद तक हम बिमारियों से बचे रह सकते है। इस कैंप के दौरान 500 से ज्यादा मरीजों का निशुल्क चैकअप किया गया और इस कैंप में मरीजों को मुफ्त दवाइयां भी दी गई।

LEAVE A REPLY