जालंधर (मुनीश तोखी ) पंजाब प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता और प्रधान जिला महिला कांग्रेस, पार्षद वार्ड -20 डा. जसलीन सेठी ने बीएमसी चौक में बढ़ रही सिलेंडरों की कीमत पर मोदी सरकार के खिलाफ चूल्हा जलाकर धरना प्रदर्शन करते हुए कहा कि जनवरी में सब्जियों, दालों, मांस, मछली और अंडे के दाम में सर्वाधिक वृद्धि हुई। गत वर्ष जनवरी की तुलना में सब्जियों के दाम 50.19 और दालों तथा इनके उत्पादों के दाम 16.71 प्रतिशत बढ़े। पहले ही महंगाई की मार झेल रहे आम लोगों को एक और बड़ा झटका लगा, दिल्ली चुनावों के परिणामों के तुरंत बाद 12 फरवरी को पेट्रोलियम कंपनियों ने बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में 144.50 रुपए की वृद्धि कर दी। डा. सेठी ने कहा कि मोदी सरकार की ओर से जारी की गई सभी स्कीमे फेल ही हुई है और जिसमें से एक उज्जवल योजना का सच यह है कि 90 हजार लोगों को सिलेंडर मिला जिसमें से 10% लोगों ने ही रीफिल कराई उज्जवला योजना लोगों के लिए राहत की बजाय मुसीबत बन गई है इस योजना के तहत निशुल्क गैस कनेक्शन दिया गया लेकिन अब गैस सिलेंडर की कीमतें दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है जिसके कारण मजदूर तबके के पास सिलेंडर खरीदने के लिए पैसा नहीं है। गैस सिलेंडर पर खाना बनाने के बाद अब फिर से महिलाएं लकड़ी जलाकर चूल्हे पर धुएं से खाना बना रहे हैं। विधायक सुशील रिंकू ने बोलते हुए कहा कि रसोई गैस की कीमत बढ़ाकर सरकार दिल्ली के चुनावों में हार की भड़ास निकाल रही है और यह वृद्धि उस समय की गई है जब देश में आर्थिक मंदी और बेरोजगारी अपने चरम पर है लोगों की नौकरियां जा रही है और ऐसे हालात में केंद्र सरकार ने आम लोगों पर फिर से महंगाई का बड़ा वार कर दिया है। इस मौके पर पार्षद बलराज ठाकुर, सुरजीत कौर, गुरमीत कोर, आरती सब्बरवाल, महिंदर कौर, नव प्रिया, अनू गुप्ता, कोशलिया, प्रीतम, सोमा देवी, रीमा, सोनीता खाेसला, जसबीर कौर, रणजीत कोर, निर्मला मट्टू, नीलम कोकी, अंजलि सब्बरवाल, कैलाश जलोटा, सुदर्शन गिल, सरोज, सुरेंद्र बैराे, विक्की बागड, राजदीप सिंह सूमल, मलकीत, सतनाम सिंह, रमेश, लकी, रतन लाल आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY