जालंधर (मुनीश तोखी ) डॉ. सिम्मी गुप्ता, प्रधान आयकर आयुक्त-1, जालंधर एवं होशिआरपुर के निर्देशानुसार एवं रविंदर मित्तल, संयुक्त आयकर आयुक्त, रेंज- होशियारपुर के दिशा निर्देशानुसार आयकर विभाग कि तरफ से होशियारपुर के तीन प्रतिष्ठानों, लहंगा हाउस, चिकन शॉप व सब्जी विक्रेता पर आयकर सर्वे किये गए I जिसमे आयकर विभाग होशियारपुर एवं जालंधर के विभिन्न अधिकारियों और कर्मचारियों ने इन प्रतिष्ठानों पर जाकर उनके दस्तावेजों का निरिक्षण किया और मालिकों से जरुरी पूछताछ की गई I निरिक्षण के दौरान आयकर विभाग ने प्रतिष्ठानों की किताबों की गहन जाँच की जिसमे आयकर अधिनियम के तहत काफी खामियां पाई गई I जिस वजह से इन प्रतिष्ठानों मे काफी अघोषित आय का पता चला। इसके फल स्वरुप इन प्रतिष्ठानों ने जो अब तक सिर्फ हजारों मे अनुमानित आय के अनुसार आयकर भरते थे उन्होंने कुल मिलकर 2 करोड़ की अतिरिक्त अघोषित आय सरेंडर की। आयकर विभाग ने इन
तीनों फर्मो को इस अघोषित अतिरिक्त आय का बनता आयकर 31.03.2020 से पहले जमा करने का निर्देश दिया है। डॉ. सिम्मी गुप्ता, प्रधान आयकर आयुक्त-1, जालंधर एवं होशियारपुर ने कहा की जिन करदाताओं का टैक्स देय है वह अपना आयकर अतिशीघ्र जमा करवा दे ताकि विभाग की इस प्रकार की सख्त कार्यवाही से बचा जा सके और जिन लोगों ने अभी तक इस निर्धारण वर्ष
(A.Y.) की आयकर विवरणी (Income Tax Return) नहीं फाइल की है वह अतिशीघ्र अपनी आयकर विवरणी फाइल करें I आयकर विभाग में सूचना के आधार पर अडवांस टैक्स और व्यक्ति द्वारा साल में किया गया बिजनेस जिसकी की पूरी जाँच की जा रही है I इसलिए सब को चाहिए की वह अपना देय कर समय पर अदा करें और राष्ट्र की तरफ अपना कर्तव्य निभाए Iइस मौके पर टीम मे एम एस परमार, उप आयकरआयुक्त, तरसेम लाल, परविंदर सिंह, सुनील ऐरी, विनीत कुमार, कमल किशोर, आयकर अधिकारी प्रतिभा अन्य आयकर निरीक्षक भी उपस्थित थे I

LEAVE A REPLY